100+ gulzar shayari in hindi 2 lines, गुलज़ार शायरी इन हिंदी

Share:

 Best Gulzar shayari in hindi 2 lines- गुलज़ार शायरी इन हिंदी 2020

gulzar shayari in hindi 2 lines,

अगर आप gulzar shayari in hindi 2 line, gulzar shayari on love in hindi or gulzar two line shayari in hindi साथ ही साथ gulzar shayari on life और गुलज़ार शायरी इन हिंदी पड़ना चाहते जो तो यहाँ पे आप सब को वो सब मिले गए जो आप चाहते हो  

दोस्तों अगर आप  गुलज़ार की शायरी के सौखीन हो या आप को गुलज़ार की  poetry अछि लगती है तो आप सही जगह पे आये हो क्युकी आज हम  आपके लिए गुलज़ार शायरी इन हिंदी लेकर आये है जिसे आप इन को पढ़ कर अपने watsapp, facebook या instagram पे अपने दोस्तों के बिच शेयर कर सकते हो।  

हम जानते है की गुलज़ार साहब भारत क्या पुरे दुनिया के लोकप्रिय लेखकों में से एक है और गुलज़ार साहब की शायरी या कविताये बहुत ही मशहूर है जिसे लोग पड़ना और सुनना पसंद करते है। गुलज़ार साहब ने बहुत सारी शायरिया गज़ले गाने लिखी है जिनमे से गुलज़ार की शायरी प्यार पे या गुलज़ार की शायरी जीवन पे और गुलज़ार की शायरी बेवफाई पे लोगो का दिल जित लेती है आज हम उन्ही शायरी से कुछ आप सभी के समक्छ पेस कर करे है 

हमे उम्मीद है की ये  gulzar shayari in hindi 2 lines आपको बहुत पसंद आएगी और आप इनको पढ़कर कुछ अच्छा सीखोगे और जिंदिगी में कुछ अच्छा करोगे। 

Top gulzar shayari in hindi 2 lines on life


gulzar shayari in hindi 2 lines, गुलज़ार शायरी इन हिंदी



मुह खोल कर तो मै हस देता हूँ हर किसी के साथ लेकिन दिल खोलकर हसे मुझे जमाना हो गया
Much khol kar to mai hus deta hu har kisi ke sath lekin dil kholkar hase mujhe jamana ho gya

तुजे मुफ्त में जो मिल गये है हम तू कदर न करे ये हक़ है तेरा.....
Tujhe muft me jo mil gye hai hum tu kadar na kare ye hak hai tera

चलो मर जाते है तुमपर बताओ दफ्नाओगे अपने साने में?
Chalo mar jate hai tumpar batao dafnaoge apne sine me?
gulzar shayari in hindi 2 lines, गुलज़ार शायरी इन हिंदी


बाहर बहुत खतरा है जान तुम मेरे दिल में रह लो..... 
Bahar bahut khatra hi jaan tum mere dil me rah lo.

दिया जलाना है साहब किसी का दिल नहीं.... 
Diya jalana hai sahab kisi ka dil nahi.

टूटता हुआ तारा सबकी दुआ पूरी करता है क्यूकी उसे टूटने का दर्द मालूम होता है
Tutta hua tara sabki dua puri karta hi kuki use tutne ka dard malum hota hai.
gulzar shayari in hindi 2 lines, गुलज़ार शायरी इन हिंदी

 Best gulzar two line shayari in hindi

चलो कुछ दिन सुकून से जिया जाये गैरो से दूर और अपने के पास रहा जाए...... 
Chalo kuch din sukun se jiya jaye gairo se dur or apno ke paas raha jaye

जरुरी नहीं मोहबत में रोज बाते हो ख़ामोशी से उसके मेसेज का इन्तेजार करना भी तो इश्क है
Jaruri nahi mohabat me roj bate ho khamoshi se uske message ka entejar karna bhi isq hai.

हर सक्स को चाहिए हजारो चाहने वाले,अब एक मोहबत में गुजरा नहीं होता
Har saks ko chahiye hajaro chahne vale ab ek mohabat me gujara nahi hota.
gulzar shayari in hindi 2 lines, गुलज़ार शायरी इन हिंदी


सारी उम्र गुजार दी तन्हाई में हमने जरा सांसे क्या टूटी मेला सा लग गया
Saari umar gujar di tanhai me humne jara sanse kya tuti mela sa lag gya.

एक गरीब आदमी बोला मेरी तो मज़बूरी है खाना लेने की,पर आपकी क्या मज़बूरी है खाना देते हुए फोटो लेने कीEk garib aadmi bola meri to majburi hai khana lene ke par aapki kya majburi hai khana dete hue photo lene ki

मुझमे खामिया है मुझे माफ़ कीजिये पर आप आईने को भी तो साफ़ कीजिये
Mujhme hajar khamiya hai mujhe maaf kijiye par aap aaine ko bhi to saaf kijiye.
gulzar 2 line shayari in hindi 

gulzar shayari in hindi 2 lines, गुलज़ार शायरी इन हिंदी


कैसे करू भरोसा गैरो के प्यार पर यहाँ अपने ही लेते है मजा अपनों की हार पर
Kaise karu bharosa gairo ke pyar par yaha apne hi lete hai maje apno ke haar par.

तेरी डीबे की बो दो रोटिया कही बिकती नहीं माँमहंगे होटलों में आज भी भूख मिटती नहीं माँ
Teri dibe ki vo do rotiye kahi bikti nahi maa, mahnge hotalo me aaj bhi bhukh mit ti nahi maa.


बरसो बाद स्कूल के कैंटीन में गया तो चाय वाले ने पूछा की चाय के साथ क्या लोगे मैंने कहा पुराने दोस्त मिलेंगे क्या
Barso baad school ke kanteen me gya chaye vale ne puchha ki chai ke kya loge maine kaha vahi purane dost milenge kya.

gulzar shayari in hindi 2 lines, गुलज़ार शायरी इन हिंदी

मोहबत तो कायम रहती है साहब मोहबत करने वाले टूट जाते है
Mohabat to kayam rahti hi sahab mohabat karne vaale tut jate hai.

घमंड मत करो साहब अंगारे राख भी बनती है
Ghmand mat karo sahab anhare rakh bhi banti hai.

मत लगाओ हिसाब मेरे आंसुओ का जनाब समंदर के पानी को कोई नाप नहीं पाया....Mat lagao hissab mere aansuo ka janab samandar ke paani ko koi naap nahi paya.

 gulzar shayari love in hindi


gulzar shayari in hindi 2 lines, गुलज़ार शायरी इन हिंदी


सच्चा प्यार तो सिर्फ एक तरफ़ा ही होता है जो दोनों तरफ से हो जाये उसे किस्मत कहते है
Sachha pyar to sirf ek tarfa hi hota hai jo dono taraf se ho jaye use kismat kahte hai.

मोहबत का खुमार उतरा तो ये एहसास हुआ जिसे मंजिल समजते थे वो बेमकसद रास्ता निकला
Mohabat ka khumar utra to ye ehsaas hua jise manjil samajhte the vo bemaksad rasta nikla.

उसके बदलने का कोई दुःख नहीं साहब बस अपने ऐतेबार पर सर्मिन्दा हूँ मै... 
Uske badlne ka koi dukh nahi sahab bas apne etebar par sarminda hu mai.
 gulzar shayari deep meaning

gulzar shayari in hindi 2 lines,


मिलने जो पंहुचा दुस्मानो के घर अपने ही दोस्तों से मुलाकात हो गई
Milne jo pachua dusmano ke ghar apne hi dosto se mulakat ho gai.

मै गरीब हूँ साहब मुझे किसी का खोफ नहीं है बहार जाऊंगा तो बीमारी मार देगी अन्दर रहूँगा तो भूख...  
Mai garib hu sahab mujhe kisi ka khof nahi hai bahar jaunga to bimari maar degi andar rahunha to bhukh.

फिर कहा जाऊंगा मै अगर उसे जाने दिया तो
Phir kaha jaunga mai agar use jaane diya to.
gulzar shayari in hindi 2 lines,

gulzar quotes on zindagi
देखा करो कभी कभी अपनी माँ के आँखों में ये वो आइना है जिंसमे बच्चे कभी बूढ़े नहीं होते
Dekho karo kabhi kabhi apni maa ke aankho me ye vo aaina hai jisme bacho kabhi budhe nahi hote.

ज्यादा तमीजदार होने का नुकसान ये है की हजारो बाते दिल में ही रह जाती है
Jayda tamijdaar hone ka nuksaan ye hai ki hajaro baate dil me hi rah jati hai.

किसके लिए जन्नत बनाई है ये खुदा कोन है इस जहाँ में जो गुनहगार नहीं
Kiske liye janat banaya hai ye khuda kon hai is jaha me jo gunahgaar nahi.
gulzar shayari in hindi 2 lines, गुलज़ार शायरी इन हिंदी

Gulzar poetry two lines in Hindi




मिले तो हजारो लोग थे जिंदिगी में पर वो सबसे अलग थी जो किस्मत में नहीं थी

Mile to hajaro log the jindigi me par vo sabse alag thi jo kismat me nahi thi.


मत खोल मेरी किस्मत की किताब को हर उस सक्स ने दिल दुखया है जिस पे मैंने भरोसा किया था

Mat khol meri kismat ki kitab ko har us saks ne dil dukhaya hai jis pe maine bhrosa kiya tha.

मै चाय के लिए मन करूँगा तुम ज्यादा बन गई है कहके पिला देना.......Mai chai ke liye mana karunga tum jayda ban gai hai kah ke pila dena.
gulzar shayari in hindi 2 lines, गुलज़ार शायरी इन हिंदी



न हमें तेरे दिल में जगह मिली न इन आंसुओ को आँखों में

N hume tere dil me jagah mili na in aansuo ko aankho me.


कुछ सिकायते बनी रहे तो बेहतर है चासनी में डुबे रिश्ते वफादार नहीं होते

Kuch sikayate bani rahni chahiye behtar hai chasni me dube riste vafadaar nahi hote.


मोहबत और नौकरी में कोई फर्क नहीं है साहब आदमी करता रहेगा रोता रहेगा मगर छोड़ेगा नहीं

Mohabat or naukri me koi fark nahi hai sahab aadmi karta rahega rota rahega magar chhodega nahi.
shayari by gulzar in hindi 

gulzar shayari in hindi 2 lines, गुलज़ार शायरी इन हिंदी



खुस तो वो रहते है जो जिस्मो से मोहबत करते है रूह से मोहबत करने वालो को अक्सर तड़पते देखा है

Khus to vo rahte hai jo jism se mohabat karte hai ruh se mohabat karne valo ko aksar tadapte dekha hai.


सकल तो सबकी अछि होती है पर दिल किसी किसी का अच्छा होता है

Sakal to sabki achhi hoti hai par dil kisi kisi ka achha hota hai.


जादा कुछ नहीं जानता मोहबत के बारे में बीएस तुम सामने आती हो तो तलाश खत्म हो जाती है

Jayda kuch nahi janta mohabat ke baare me bs tum saamne aati ho to talash khatm ho jaati hai.
gulzar love shayari in hindi 

gulzar shayari in hindi 2 lines, गुलज़ार शायरी इन हिंदी



खुसिया तक़दीर में होनी चाहिए तस्वीर में तो हर कोई खुश नजर आता है

Khusiya takdir me honi chahiye tasvir me to har koi khush najar aata hai.


वो अक्सर मुझसे पूछा करती थी तुम मुझे कभी छोड़ कर तो नहीं जाओगे कास मैंने कभी पूछ लिया होता

Vo aksar mujhse pucha karti thi tum mujhe kabhi chhod kar to nahi jaoge kaas maine kabhi puchh lia hota.


उसे किसी से मोहबत हो रही है फिर उसमे अच्छा क्या बुरा क्या

Use kisi se mohabat ho rahi hai phir usme achha kya bura kya.
 gulzar shayari on yaadein

gulzar shayari in hindi 2 lines, गुलज़ार शायरी इन हिंदी


तेरी यादे कांच के टुकड़े और मेरा दिल नंगे पाँव.....Teri yaade kanch ke tukde or mera dil nange paav.


हमे अपने इश्क के बारिस में भिगो के कहते है जान बारिस में मत भीगना बीमार पड़ जाओगे

Hum apne isq ke baaris me bhigo ke kahte hai jaan baaris me mat bhingna bimaar pad jaoge.


मुझे रास आ गया है अकेला पन अब तुम अपने वक्त का आचार डाल लो

Mujhe raas aa gya hai akela pan ab tum apne vakt ka achar daal lo.


नब्ज जाच लेना साहेब दफ़न से पहले कलाकार उम्दा है किरदार में न हो

Nabj jach lena sahab dafan se pahle kalakar umda hai kirdaar me na ho.
 gulzar quotes on zindagi

gulzar shayari in hindi 2 lines, गुलज़ार शायरी इन हिंदी



जो महसूस करते है बाया कर देते है हमसे लफ्जों की दगाबाजी नहीं होती

Jo mahsus karte hai baya kar dete hai hamse lafzo ki dagabazi nahi hoti.


अपनी बातो में इश्क मिला देते हो हाकिम भी परेसान है कोन से दावा देते हो

Apni baato me isq mila dete ho haakim bhi paresaan hai kon si dava dete ho.


जिनके जाने से जान जाती थी मैंने उन्हें भी जाते देखा है

Jinke jane se jaan jati thi maine unhe bhi jaate dekha hai.
gulzar shayari in Hindi 2 lines for love 

gulzar shayari in hindi 2 lines, गुलज़ार शायरी इन हिंदी



दूसरी मोहबत अक्सर उसी से होती है जिसे आप पहली मोहबत का रोना सुना रहे होते हो

Dusri mohabat aksar usi se hoti hai jise aap pahli mohabat ka rona suna rahe hote ho.


घमंड की बीमारी सराब जैसी है यारो खुद को छोड़ कर सबको पता चलता है की इसको चढ़ गई है

Ghamand ki bimari sarab jaisi hi yaro khud ko chhod kar sabko pata chalta hai ki isko chad gai hai.


सूखे होंठो से ही होती है मीठी बाते, प्यास बुझ जाये तो फिर लहजे बदल जाते है

Sukhe hontho se hi hoti hai mithi baate pyar bujh jaye to phir lahje badal jate hai.
 गुलज़ार शायरी इन हिंदी 2020



एक गलती रोज कर रहे है जो मिले गा ही नहीं उसी पे मर रहे हैek galti hum rooj kar rahe hai jo mile ga hi nahi usi pe mar rahe hai.


दर्द मोहबत का है दोस्त बहुत खूब होगान चुभेगान दिखेगा बस महसूस होगा

Dard mohabat ka hai dost bahut khub hoga,na chubhega,na dikhega bas mahsus hoga.


बो आती मेरे कंधे तक भी नहीं और चढ़ी सर पे रहती है

Vo aati mere kandhe tak bhi nahi or chadhi sar pe rahti hai.

बहुत करीब आकर बताया उसने की तुम्हारी नहीं मै Bahut karib aakar bataya usne ki tumhari nahi mai.

gulzar shayari in hindi 2 lines,

गुलज़ार की दो लाइन शायरी 

बस एक बात दिल पे लगती है और फिर दिल कही लगता ही नहीं

Bas ek baat dil pe lagti hai or phir dil kahi lagta hi nahi.


बस तुम थामे रहना हाथ उम्र भर, वादा है नहीं पूछेगे कहा जाना है

Bas tum thame rahna hath umr bhar vada hai nahi puchhoge kaha jana hai.


उसकी आँखों का खुमार उफ़ तौबा यकीं करो दिल न देते तो जान चली जाती

Uski aankho ka khumar uf touba yaki karo dil na dete to jaan chali jati.
gulzar shayari in hindi 2 lines, गुलज़ार शायरी इन हिंदी



गुनाह मालूम नहीं पर सजा लाजवाब मिली है

Gunah malum nahi par saja lajawab mili hai.


मै उसका हूँ ये राज तो वह जान चुकी है, वो किसकी है ये सवाल मुझे सोने नहीं देता

Mai uska hu ye raaj to vah jaan chuki hai vo kiski hai ye sawal mujhe sone nahi deta.


जो मै रूठ जाऊ तो तुम मन लेना, कुछ न कहना बस सीने से लगा लेना

Jo mai ruth jau to tum maan lena kuch na kahna bas sine se laga lena.


आखरी बार मै उस के कब मिला ये पता नहीं, बस ये पता है की वो साम बहुत भारी थी

Aakhri baar mai usse kab mila ye pata nahi bs ye pata hai ki vo saam bahut bhari thi.
2 line gulzar shayari in hindi for love 

gulzar shayari in hindi



मै तो समझा था मिलके दास्ता पूरी हो गई वो बिछड़ कर और भी लम्बी कहानी कह गई

Mai to samjha tha milke dasta puri ho gai vo bichhad kar or bhi lambi kah gai.


कल रात उदाशी का आलम ये हुआ यारो ....हर दर्द मेरा मैंने कागज पे लिखा यारो ....फिर नींद के आलम में मै सोता रहा यारो ...तकलीफ में था कागज रात भर रोता रहा यारो....

Kal raat udashi ka aalam ye hua yaro...har dard mera maine kagaj pe likha yaaro...phir nind ke aalam me mai sota raha yaro...taklif me tha kagaj raat bhar rota hi raha yaro..


जिंदिगी से कफा न होता अगर मै उससे मिला न होता

जिंदिगी अछि कट रही होती वो अगर बेवफा नहीं होती 
Jindigi se kafa na hota agar mai usse mila na hotaJindigi achhi kat rahi hoti vo agar bevafa na hoti.


मुझे खींच ही लेती है हर बार उसकी मोहबत

वर्ना बहुत बार मिला हूँ आखरी बार उससे
Muje kichh hi leti hai har baar uski mohabat varna bahut baar mila hu aakhri baar usse.
 gulzar romantic shayari

gulzar shayari in hindi 2 lines, गुलज़ार शायरी इन हिंदी


कई बार जरुरत से जयादा कर्च कर देता हूँ वो क्या है न साहब मै अपने गरीब बाप का आमिर बेटा हूँ Kai baar jarurat se jayada kharch kar deta hu vo kya hai na sahab mai apne garib baap ka amir beta hu.


जिन्हें मुझ से मोहबत है वो सब मुझपे गुमान करो

मई चुबता जिनकी आँखों को वो आँखे अपनी दान करो
Jinhe mujh se mohabat hai vo sab mujhpe guman karoMai chubhta jinki aankho ko vo aankhe apni daan karo.


नजर अगर प्यार में झुकी तो अछि लगती है

तुम्हारी सर्म से झुकी तो क्या झुकी
Nahar agar pyar me jhuki to achhi lagti hai.Tumhari saram se jhuki to kya jhuki.


हालात हमारे हम पर इस तरह जुल्म ढाह रहे है

हम दर्द सुना रहे है लोग तालिया बजा रहे है
Halat hamare hum par is tarah julm dhah rahe hai.Hum dard suna rahe hai log taliya baja rahe hai.

gulzar shayari in hindi 2 lines, गुलज़ार शायरी इन हिंदी

gulzar shayari in hindi 2 lines on zindigi

लब्ज ही सब कुछ होते है दिल जित भी लेते है और दिल चीर भी देते है

Labz hi sab kuch hota hai dil jit bhi leta hai or dil chir bhi deta hai.


चली जो बात मेरे जान की है

घडी आई ये इंतेहान की है
अधुरा चाँद ये जो दिख रहा है
समझ लो बाली उसके कान की है
Chali jo baat mere jaan ki hai,Ghadi aai ye entehaan ki hai,Adhura chand ye jo dikh raha hai,Samaj lo baali uske kaan ki hai.


सिने में जो ये धडकता हिस्सा है उसी का तो ये सारा किसा है

Sine me jo ye dhadakta hissa h usi ka to ye saara kissa hai.


एक बार और उलझना है तुमसे बहोत कुछ सुलझाने के लिए

Ek baar or ulajna hai tumse bahot kuch suljhane ke liye.


तलब है की तुम मिल जाओ हसरत है की जिंदिगी भर के लिए

Talab hai ki tum mil jao hasrat hai ki jindigi bhar ke liye.

तुमने किया न याद हमे कभी भूल कर हमें,हमने तुम्हारी याद में सब कुछ भुला दियाTumne kiya na yaad hume kabhi bhul kar hume, Humne tumhari yaad me sab kuch bhula diya

हर हाल में हसने का हुनर पास था जिनकेवो रोने लगे है कोई तो बात होगीHar haal me hasne ka hunar paas tha jinke, Vo rone lage hai koi to baat hogi.
दोस्तों हमें उम्मीद है आपको ये gulzar shayari in hindi 2 lines बेहद पसंद पसंद आई होगी इस प्यार भरे शायरी के लिए गुलज़ार साहब का बहुत बहुत सुक्रिया।

No comments

please do not enter any spam link in the comment box